For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 89072401
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: बूढ़ा पुष्कर रोड स्थित भट्बावड़ी प्राचीन गणेश मंदिर पर गणेश चतुर्थी को लगा भक्तों का मेला |  Ajmer Breaking News: तीर्थ नगरी पुष्कर में घर घर दर्शन देने पहुंचे प्रथम पूज्य गणपति |  Ajmer Breaking News: एडीएम सिटी भावना गर्ग ने ली बैठक,लम्पी ग्रसित गायों की देखभाल के लिए टीमों का किया गठन |  Ajmer Breaking News: नकली सोने की ईंट बेचने मेदिनीपुर पश्चिम बंगाल से अजमेर पहुंचे 3 ठग चढ़े पुलिस के हत्थे |  Ajmer Breaking News: सिविल लाइंस थाने में धोखाधड़ी और चोरी के 2 मुकदमे दर्ज |  Ajmer Breaking News: श्री योग वेदांत सेवा समिति के तत्वाधान में महिलाओं ने ब्लेक डे मनाते हुए कलेक्ट्रेट पर किया प्रदर्शन |  Ajmer Breaking News: शतायु हो चुके स्वतंत्रता सेनानी किशन अग्रवाल का हुआ निधन |  Ajmer Breaking News: घरों और पंडालों में विराजे प्रथम पूज्य गणपति, बुधवार दोपहर 12 बजे हुई जन्म आरती |  Ajmer Breaking News: भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को घर-घर विराजेगें विघ्नहर्ता भगवान श्रीगणेश,  |  Ajmer Breaking News: जिला परिषद के सभागार में साप्ताहिक जनसुनवाई का आयोजन | 

अजमेर न्यूज़: जालौर के सायला थाना अंतर्गत सुराणा गांव के दलित छात्र की हत्या के आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर विभिन्न संगठनों ने दिये ज्ञापन

Post Views 211

August 16, 2022

निजी स्कूल के आरोपी हेड मास्टर के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने और परिवार को मुआवजा देने की मांग

मंगलवार को अजमेर जिलाधीश कार्यालय पर विभिन्न संगठनों और राजनीतिक दलों के द्वारा मुख्यमंत्री के नाम जालौर में हुए घटनाक्रम को लेकर ज्ञापन सौंपे गए। अंबेडकर जागरूकता मिशन संस्थान चाचियावास, युवा मेघवाल महासभा इंडिया, मेघवाल समाज, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी, राजकीय महाविद्यालय छात्र प्रतिनिधियों के द्वारा मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर जालौर जिले के सायला थाना अंतर्गत सुराणा गांव में 9 वर्षीय दलित छात्र इंद्र कुमार मेघवाल के हत्यारे को फांसी व परिवार के एक सदस्य को राजकीय सेवा में नौकरी, परिवार को 50 लाख रुपये का  मुआवजा दिलाने की मांग की गई। ज्ञापन देने आए संस्था प्रतिनिधियों ने बताया कि छात्र इंद्र कुमार की हत्या सिर्फ इसलिए कर दी गई क्योंकि उसने सवर्ण हेड मास्टर के मटके से पानी पी लिया जिस पर कथित निजी स्कूल के हेडमास्टर छैल सिंह ने छात्र की निर्मम पिटाई की जिससे उसकी हालत नाजुक हो गई और उसका 22 दिनों तक अहमदाबाद में इलाज चला आखिर अहमदाबाद के अस्पताल में उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही नेताओं और संगठनों की नींद जागी और वे परिवार को मुआवजा दिलवाने और हत्यारे को फांसी दिए जाने की मांग को लेकर आंदोलन पर उतर गए। जबकि 22 दिनों तक किसी भी राजनीतिक दल के नेता या संगठन ने दलित छात्र के इलाज के लिए कोई कदम नहीं बढ़ाया ना ही उसकी सुध ली। सुना है अब नेता भी सुराणा गांव पहुंचकर परिवार को सांत्वना दे रहे हैं या यूं कहिए राजनीतिक रोटियां सेक रहे हैं।


© Copyright Horizonhind 2022. All rights reserved