For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 95048983
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: संभाग के सबसे बड़े जवाहरलाल नेहरू अस्पताल में भर्ती महिला मरीज के परिजनों ने रेजीडेंट डॉक्टर के साथ किया अभद्रता और मारपीट |  Ajmer Breaking News: मुख्यमंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान 2.0  जिला स्तरीय समीक्षा बैठक आयोजित |  Ajmer Breaking News: । विभिन्न विभागों के मध्य कार्यो को बेहतर तरीके से सम्पादित करवाने के लिए साप्ताहिक समन्वय बैठक सोमवार को कलेक्टेªट सभागार में आयोजित हुई।  |  Ajmer Breaking News: जल संसाधन मंत्री सुरेश सिंह रावत ने सुनी समस्याएं, दिए समाधान के निर्देश |  Ajmer Breaking News: राजगढ़ धाम पर नवस्थापित देवप्रतिमाओं को लगाया 56 भोग |  Ajmer Breaking News: पुष्कर सरोवर में आज किया स्वच्छता अभियान संत निरंकारी फाउण्डेशन - स्वच्छ जल-स्वच्छ मन परियोजना  |  Ajmer Breaking News: हाई टेंशन विद्युत लाइन के पिलर पर चढ़ा युवक , लगभग एक घंटे तक चली जान देने की धमकी का ड्रामा, |  Ajmer Breaking News: पीसांगन के फतेहपुरा में पिकअप सवार तीन चोरों ने किया सिंगल फेस ट्रांसफार्मर चोरी का असफल प्रयास,जाग होने पर चोर भागे,लेकिन अखेपुरा से चुराया ट्रांसफार्मर |  Ajmer Breaking News: जीआरपी थाना पुलिस ने अजमेर रेलवे स्टेशन पर गश्त के दौरान 14 किलो चांदी के जेवरात सहित एक व्यक्ति को किया डिटेन 102 सीआरपीसी में चांदी के जेवरात किये जप्त, अनुसंधान जारी |  Ajmer Breaking News: नाबार्ड, एसएफएससी एवं ओएनडीसी के सहयोग से अजमेर में तीन दिवसीय तरंग सेलिब्रेटिंग कलेक्टिविज़ेशन मेले का आयोजन किया जा रहा है। | 

अंदाजे बयां: जब से चेहरा देखा है दीवाने का, याद हो गया है रस्ता वीराने का।

Post Views 761

April 26, 2021

मन्दिर,मस्जिद गिरिजाघर गुरुद्वारे बन्द, खुला हुआ है दरवाज़ा मयख़ाने का।

जब से चेहरा देखा है दीवाने का,

याद हो गया है रस्ता वीराने का।

मन्दिर,मस्जिद गिरिजाघर गुरुद्वारे बन्द,

खुला हुआ है दरवाज़ा मयख़ाने का।

जहाँ न कोई जाता और न आता है,

मैं रस्ता हूँ उस घर के तहखाने का।

सुना रहा है वक़्त सुन रही दुनिया भी,

नहीं कोई किरदार है जिस अफ़साने का।

बांट लिया आपस में जिसे फ़क़ीरों ने,

आख़री वारिस हूँ मैं उसी ठिकाने का।

जिस पँछी ने जंगल से की ग़द्दारी,

सुना है वो मोहताज़ है दाने दाने का।

रहिमन ने सौंपा है हमको काम वही,

उलझे धागों को फिर से सुलझाने का।

सुरेन्द्र चतुर्वेदी


© Copyright Horizonhind 2024. All rights reserved