For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 97490176
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: आदर्श नगर थाना अंतर्गत थाना क्षेत्र में रहने वाले परिवार ने कथित परिवार के परिचित गुरुजी पर लगाया नाबालिक से दुष्कर्म के प्रयास का आरोप, |  Ajmer Breaking News: राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आरएएस मुख्य परीक्षा- 2023 का आयोजन शनिवार से प्रारंभ,कुल 19348 कैंडिडेट्स मेन्स के लिए हैं पात्र, 972 पदों के लिए होनी है भर्ती, |  Ajmer Breaking News: महेन्द्र कुमार ढ़ाबी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने महिला सुधार गृह का औचक निरीक्षण किया। |  Ajmer Breaking News: शासन सचिव (आयोजना) एवं जिला प्रभारी सचिव नवीन जैन के निर्देशो की अनुपालना में सांख्यिकी कार्यालय का किया निरीक्षण |  Ajmer Breaking News: किशनगढ़ एयरपोर्ट से सम्बन्धित एरोडॉªम कमेटी की बैठक शुक्रवार को जिला कलक्टर डॉ. भारती दीक्षित की अध्यक्षता में आयोजित हुई। |  Ajmer Breaking News: आज दिनांक 19 जुलाई को विप्र सेना स्थापना दिवस विप्र सेना इकाई अजमेर द्वारा वृक्षारोपण व पौधारोपण किए गए । |  Ajmer Breaking News: राजगढ़ धाम पर गुरुपूर्णिमा महोत्सव रविवार, 21 जुलाई को |  Ajmer Breaking News: दिव्यांगजन के विकास और कल्याण के लिए आर.एम.के.एम. के द्वारा किए गए नवाचारों से निति निर्माताओं को दिशा मिलेगी: डाॅ. विनय सहस्त्रबुद्धे |  Ajmer Breaking News: स्मार्ट सिटी अजमेर में युवा खिलाड़ी भी अब खेलों से हो रहे हैं महरूम ,अजमेर के एकमात्र खेल स्टेडियम पटेल मैदान में फुटबॉल ग्राउंड पर निगम ने लगाए ताले  |  Ajmer Breaking News: नागौर से अपने भांजे का जन्मदिन मनाकर अजमेर लोट रहे वकील के साथ मारपीट व लूट की वारदात | 

अजमेर न्यूज़: 17 जून 2022 को दरगाह के निजाम गेट पर मौन जुलूस के दौरान भड़काऊ भाषण और आपत्तिजनक नारेबाजी के मामले में अदालत में बहस और सुनवाई हुई पूरी 

Post Views 131

June 15, 2024

माननीय न्यायालय 12 जुलाई को सुनायेगा फाइनल फैसला

17 जून 2022 को दरगाह के निजाम गेट पर मौन जुलूस के दौरान भड़काऊ भाषण और आपत्तिजनक नारेबाजी के मामले में अदालत में बहस और सुनवाई हुई पूरी 

माननीय न्यायालय 12 जुलाई को सुनायेगा फाइनल फैसला


अजमेर में ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह के बाहर आयोजित मोन जुलूस के दौरान भड़काऊ नारे लगाने के मामले में आज जिला एवं सेशन न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण में सुनवाई और बहस पूरी हो गई है। माननीय न्यायालय इस मुकदमें का फैसला 12 जुलाई को सुनाएगा। 
गौरतलब है कि 17 जून 2022 को दोपहर 3 बजे दरगाह के निजाम गेट पर खादिमों सहित दरगाह की अन्य संस्था द्वारा मोन जुलूस रखा गया था जहां कुछ लोगों द्वारा भडकाऊ भाषण बाजी की गई और आपत्तिजनक नारे लगाए थे।
इस घटना का पुलिस ने वीडियो बनाया और उसी आधार पर दरगाह थाने में मुकदमा दर्ज किया गया।  सरकार की ओर से प्रकरण की पैरवी कर रहे एडवोकेट गुलाम नजमी फारूकी ने बताया कि अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश की कोर्ट में आज फाइनल सुनवाई हुई और इसमें 22 गवाह और 32 दस्तावेज पेश किए गए। सभी सुनवाई और बहस पूरी हो चुकी है अब फैसला 12 जुलाई को सुनाया जाएगा। गौहर चिश्ती को हैदराबाद में शरण देने वाला अहसानूल्लाह फरार चल रहा है और ऐसे में इनकी अलग से ट्राइल चलेगी।

गौरतलब है कि दरगाह थाने के कॉन्स्टेबल जयनारायण जाट ने दी रिपोर्ट में बताया कि 17 जून 2022 को दोपहर 3 बजे उसकी ड्यूटी निजाम गेट पर थी। इसी दौरान कुछ खादिमों द्वारा गेट पर पूर्व से निर्धारित मौन जुलूस की शर्तों का उल्लंघन करते हुए वहां भाषण दिया। इसके लिए रिक्शे पर लाउड स्पीकर लगाया। कॉन्स्टेबल ने रिपोर्ट में बताया कि इस दौरान 2500-3000 व्यक्तियों की भीड़ दरगाह के सामने थी, जबकि गौहर चिश्ती को पूर्व में समझाइश कर दी गई थी। इसी दौरान भड़काऊ भाषण के साथ नारेबाजी की गई। ऐसे में उस पर धार्मिक स्थल से हिंसा के लिए भीड़ को उकसाने और हत्या की अपील करने पर मामला दर्ज किया गया था।
पुलिस ने वीडियो के आधार पर पहले अजमेर के रहने वाले चार आरोपियों ताजिम सिद्धिकी पुत्र नईम खान, फखर जमाली पुत्र सैयद मोहम्मद जुबेर जमाली, रियाज हसन दल पुत्र हसन और मोईन खान पुत्र स्व. शमशूदीन खान को गिरफ्तार किया। इसके बाद फरार आरोपी गौहर चिश्ती व अहसानुल्लाह को पुलिस ने हैदराबाद से गिरफ्तार किया था।


© Copyright Horizonhind 2024. All rights reserved