For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 84224049
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: 97 ग्राम सोना लेकर फरार हुआ बंगाली आभूषण कारीगर आखिर चढ़ा पुलिस के हत्थे |  Ajmer Breaking News: राजस्थान को ऑपरेटिव बैंक एंप्लाइज यूनियन ऑफिसर एसोसिएशन यूनिट आम सभा की बैठक |  Ajmer Breaking News: परमवीर चक्र विजेता मेजर शैतान सिंह राजपूत की जयंती पर समारोह का आयोजन |  Ajmer Breaking News: नगर निगम के सामने स्कूटी से महिला का पर्स चोरी |  Ajmer Breaking News: शनि अमावस्या पर शनि मंदिरों में शनि भक्तों ने की विशेष पूजा अर्चना |  Ajmer Breaking News: अजयमेरु भवन निर्माण यूनियन की ओर से लगाया गया ई श्रमिक कार्ड पंजीयन शिविर |  Ajmer Breaking News: उत्पाती बंदरों के आतंक से अब मिलेगा छुटकारा, नगर निगम द्वारा बंदर पकड़ने के लिए फर्म से किया अनुबंध |  Ajmer Breaking News: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्रों ने एमडीएस कुलपति को सौंपा ज्ञापन |  Ajmer Breaking News: नगर निगम द्वारा वार्ड 74 और 77 के लिए लगाया गया प्रशासन शहरों के संग शिविर |  Ajmer Breaking News: छात्र संघ चुनाव कराने की मांग को लेकर छात्रों ने मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन | 

क़लमकार: ज़िन्दा हूँ मैं हिलता डुलता रहता हूँ, दीवारों से बातें करता रहता हूँ।

Post Views 111

October 11, 2021

हिंदी की मैं रूह से ज़िन्दा हूँ लेकिन, उर्दू से भी मिलता जुलता रहता हूँ।

ज़िन्दा हूँ मैं हिलता डुलता रहता हूँ,

दीवारों से बातें करता रहता हूँ।

हिंदी की मैं रूह से ज़िन्दा हूँ लेकिन,

उर्दू से भी मिलता जुलता रहता हूँ।

लहू के हर कतरे से मेरा रिश्ता है,

जिस्म के अंदर चलता फिरता रहता हूँ।

ख़ुद पर इतरा ले सूरज चाहे जितना,

अपनी आग में मैं भी जलता रहता हूँ।

बाहर से पुख़्ता दिखने की ख़ातिर ही,

अंदर से मैं हर पल ढहता रहता हूँ।

मिल जाएं बादल तो लगता हूँ उड़ने,

यूँ दरिया के साथ में बहता रहता हूँ।

इश्क़ की ख़ुश्बू से वाकिफ़ हूँ तभी तो मैं,

रूहानी ग़ज़लें ही कहता रहता हूँ।

सुरेन्द्र चतुर्वेदी


© Copyright Horizonhind 2021. All rights reserved