For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 83413284
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: माँ चामुंडा मंदिर पर हवन की आहुति, दशमी पर किया शस्त्र पूजन |  Ajmer Breaking News: पुश्तेनी तीर्थ पुरोहित ने धार्मिक परम्पराओ के अनुसार अस्थियां पवित्र सरोवर में कराई प्रवाहित |  Ajmer Breaking News: एनएसयूआई छात्र संगठन ने दशहरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला जलाकर जताया आक्रोश |  Ajmer Breaking News: नगर निगम ने नहीं कि विसर्जन की व्यवस्था, भक्तों को फुटपाथ पर छोड़नी पड़ी माता की मूर्तियाँ |  Ajmer Breaking News: 9 दिनों से चल रहे नवरात्र महोत्सव का कन्या पूजन के साथ हुआ समापन |  Ajmer Breaking News: कचहरी रोड स्थित बंगाली धर्मशाला में चार दिवसीय दुर्गा पूजा विसर्जन के साथ सम्पन्न |  Ajmer Breaking News: श्री कोली राजपूत हितकारिणी सभा का 93 वां वार्षिक स्थापना दिवस |  Ajmer Breaking News: हावड़ा-अहमदाबाद एक्सप्रेस का हो रूट विस्तार- भागीरथ चौधरी |  Ajmer Breaking News: राजस्थान सरकार स्वास्थ्य योजना |  Ajmer Breaking News: किशनगढ हवाई अड्डे पर मॉक ड्रिल आयोजित | 

अजमेर न्यूज़: अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ की 15 सूत्रीय मांगों पर सरकार 3 साल से नहीं कर रही गौर

Post Views 321

September 15, 2021

सातवां वेतन आयोग लागू करने सहित अन्य वेतन विसंगतियों के लिए गठित कमेटी की रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग

अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ की 15 सूत्रीय मांगों पर सरकार 3 साल से नहीं कर रही गौर सातवां वेतन आयोग लागू करने सहित अन्य वेतन विसंगतियों के लिए गठित कमेटी की रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ के बैनर तले बुधवार को कलेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव के नाम 15 सूत्री मांग पत्र पर सकारात्मक कार्यवाही करवाने और हेमराज चौधरी आईएएस की अध्यक्षता में गठित कमेटी के आदेशों को सार्वजनिक करवाने की मांग का ज्ञापन सौंपा गया। जिलाध्यक्ष विनोद रतनू ने बताया कि पिछले 3 साल से महासंघ 15 सूत्री मांग पत्र पर सरकार से लगातार वार्ता कर रहा है। लेकिन वार्ता होने के बावजूद कोई कार्यवाही नहीं हो रही। जिससे संगठन के सात लाख कर्मचारियों में घोर निराशा का माहौल बना हुआ है। राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2017 में सातवां वेतन आयोग लागू करने और राज्य के कार्मिकों की अन्य वेतन विसंगतियों को सुनकर दूर करने के लिए गठित डीसी सामंत कमेटी की रिपोर्ट को सार्वजनिक किए बिना कर्मचारियों की वेतन विसंगतियों की सुनवाई के लिए हेमराज चौधरी आईएएस की अध्यक्षता में एक नई कमेटी का गठन कर दिया गया। जिसको लेकर प्रदेश के कर्मचारी असमंजस की स्थिति में है। बार-बार कमेटियों के गठन के इस खेल को लेकर कर्मचारियों में आक्रोश पैदा हो गया है। इसलिए जल्द से जल्द लिखित समझौते के अनुरूप कार्यवाही करते हुए राज्य के कर्मचारियों को केंद्र के समान वेतन भत्ते स्वीकृति जारी किए जाएं।

vYKCMMg4aDA


© Copyright Horizonhind 2021. All rights reserved