For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 79712378
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: कोरोना की दूसरी लहर बरपा रही है कहर |  Ajmer Breaking News: राजगढ़ धाम पर अखंड ज्योति का यज्ञ हवन के साथ समापन |  Ajmer Breaking News: जन अनुशासन पखवाड़े में बरती जा रही है सख्ती |  Ajmer Breaking News: जन अनुशासन पखवाड़े के तहत नगर निगम ने निभाई सहभागिता |  Ajmer Breaking News: कोरोना योद्धाओं को राजस्थान सरकार ने दिया सम्मान, सेवा लेकर हाथ में थमा दिया नौकरी से निकालने का फरमान |  Ajmer Breaking News: पर्यावरण संरक्षण एवं जन कल्याण समिति के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत |  Ajmer Breaking News: रेवेन्यू बोर्ड के रिश्वतखोर आरएएस मेहरड़ा के खिलाफ शिकायत लेकर बुजुर्ग पहुंचा एसपी के पास |  Ajmer Breaking News: डीएफसी रेलवे प्रशासन द्वारा कल्याणीपुरा का रास्ता बंद करने से क्षेत्रवासियों में रोष |  Ajmer Breaking News: प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन पर अमल करते हुए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने फैलाई जन जागरूकता |  Ajmer Breaking News: चैत्र शुक्ल नवमी की गोधूली बेला में मां चामुंडा मंदिर पर यज्ञ हवन से नवरात्रि की पूर्णाहुति | 

क़लमकार: आम बजट में अजमेर संभाग को गहलोत ने दिए मनोवांछित फल

Post Views 211

February 25, 2021

किशनगढ़ के सुरेश टांक की सर्वाधिक मांगें हुईं पूरी


आम बजट में अजमेर संभाग को गहलोत ने दिए मनोवांछित फल
किशनगढ़ के सुरेश टांक की सर्वाधिक मांगें हुईं पूरी_
आइए  देखें  किसको कितना और क्या क्या मिला
                           सुरेन्द्र चतुर्वेदी
                       मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना काल के चलते जो आम बजट पेश किया है उसमें आम का गूदा गुठली से ज्यादा नज़र आ रहा है ।बजट में कांग्रेसी विधायकों को साधने और अपने से बांधने के अद्भुत प्रयास किए गए हैं ।उम्मीद थी कि सचिन पायलट गहलोत के बजट पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करेंगे मगर फिलहाल ऐसा तो नहीं हो सका है ।अजमेर जिले को गहलोत ने जो सौगातें दी हैं उसमें मजेदार बात यह रही कि किशनगढ़ का विशेष ध्यान रखा गया। यही वजह है कि विधायक सुरेश टांक अपने आप को धन्य महसूस कर रहे हैं ।
                    सचिन पायलट और गहलोत की राजनीतिक सिर फुटव्वल में सबसे ज्यादा नुकसान सुरेश टांक का ही हुआ था ।भाजपा से पल्ला छुड़ाने के बाद अपनी वफा का गीत गाते हुए वे गहलोत को विश्वास दिलाते रहे कि वे उनके साथ हैं ।फिर अचानक उनकी कुछ यात्राओं के बीच उनकी वफ़ा पर सवाल उठा दिए गए। इन सवालों को उठाने में चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कोई कोर कसर नहीं छोड़ी ।मगर विधायक जी की ये लंबी नाराज़गी पिछले दिनों टूट गई ।उन्होंने अपने जड़ दुश्मन पार्षद प्रदीप अग्रवाल से हाथ मिला कर यह संकेत दे दिया अब रघु शर्मा व उनके बीच का ज़हर बाहर निकल चुका है।
              अब बजट देख कर ऐसा लगता है कि गहलोत ने सुरेश टांक को अपनी स्टेपनी बना लिया है। उन्हें पता है कि आने वाले समय में सचिन पायलट अपनी नज़रें टेढ़ी करने से बाज़ नहीं आएंगे, ऐसे में संख्या बल को कायम रखने में सुरेश टांक का उनके साथ खड़े रहना बहुत ज़रूरी है ।यही वजह है कि इस आम बजट में सबसे ज्यादा सौगातें सुरेश टांक के विधानसभा क्षेत्र को दी गई हैं।
                  इसमें कोई दो राय नहीं कि सुरेश टांक किशनगढ़ की विकास  यात्रा को रफ़्तार देने में पूरी तरह समर्पित रहे हैं। वे नगर परिषद के सभापति रहे तब या मार्बल एसोसिएशन के अध्यक्ष रहे तब उन्होंने पूरी निष्ठा के साथ किशनगढ़ में विकास कार्य किए।
                       निर्दलीय विधायक के रुप में सर्वाधिक मतों से उनका  चुनाव जीतना इसी विकास का परिणाम था। लोग भले ही जाट विरोधी कार्ड को इसका कारण मानते रहें लेकिन मेरा मानना है कि कांग्रेस व भाजपा के दिग्गजों को पटकी देना संभव ही नहीं था ,यदि उनकी छवि धूमिल होती।
                      यह सच है कि आज वे सत्ता में नहीं लेकिन आम बजट में किशनगढ़ को जो दिया गया वह अजमेर जिले के किसी सत्तारूढ़ विधायक को भी नहीं मिला। मसूदा के विधायक राकेश पारीक को तो उनके मुकाबले कुछ मिला ही नहीं है।
                  नसीराबाद के पूर्व विधायक महेंद्र गुर्जर ज़रूर अपनी मांगों को बजट में पूर्ण रूप से देख कर खुश हैं।
                  चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा तो खुद मिनी मुख्यमंत्री हैं अतः उनके क्षेत्र के लिए अतिरिक्त घोषणा होना स्वभाविक रहा।
                     किशनगढ़ के लोग खुशनसीब हैं जिन्हें सुरेश टांक का ड्रीम प्रोजेक्ट किशनगढ़ परासिया डबल फाटक से नए बस स्टैंड तक का रोड ,डिवाइडर एवं आधुनिक सुविधाओं के साथ बजट में मिल गया है। किशनगढ़ के लोग मुद्दत से इस प्रोजेक्ट के स्वीकृत होने का इंतज़ार कर रहे थे।
                   गहलोत ने सुरेश टांक की मांग पूरी करते हुए किशनगढ़ से कटसुरा, अराईं, सील, ढसूक,  किशनपुरा होते हुए मालपुरा सड़क के लिए 162.22 करोड़ रुपये स्वीकृत कर दिए हैं ।इसी तरह अराईं सरवाड़ का 44 किलोमीटर रास्ता भी पी पी मोड़ पर स्वीकृत हो गया है। बोराडा अब किशनगढ़ की उप तहसील होगी ।बोराडा के पशु चिकित्सालय को प्रथम श्रेणी का बनाया जाएगा ।नगर परिषद सीमा में 20 किलोमीटर सड़कों की मेजर रिपेयर से शहर का नक्शा बदल जाएगा ।टांक की मांग पर शिवाजी नगर और निंबार्क तीर्थ सलेमाबाद में संस्कृत विद्यालय क्रमोन्नत कर दिए हैं ।गांधीनगर थाने को CI स्तर का बनाया जा रहा है। राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के माध्यम से अतिरिक्त आवास बनाए जाएंगे। हैंड पंप सौर सोलर प्लांट भी लगाए जाएंगे।यानी सुरेश टांक की बल्ले बल्ले
                उधर मसूदा के विधायक राकेश पारीक अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहे हैं उनकी विधानसभा  क्षेत्र में इक्के दुक्के काम ही किए जा रहे हैं ।
     जहां तक अजमेर का सवाल है बजट में अजमेर को भरपूर सौगात मिली है।
  बजट को आइए अजमेर संभाग के स्तर पर एक नज़र देखें।
   अजमेर संभाग मुख्यालय पर चरणबद्ध रूप से पब्लिक हैल्थ कॉलेज की स्थापना की जाएगी।
    अजमेर शहर के मध्य स्थित मेडिकल कॉलेज को कायड़ में स्थानान्तरित किया जायेगा, जिससे जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय, अजमेर के विस्तार के लिए भूमि भी उपलब्ध हो सकेगी। इसके निर्माण में लगभग 200 करोड़ रूपये खर्च किए जाएगें।
 अजमेर में राजस्थान राज्य आयुष अनुसंधान केन्द्र की स्थापना की जाएगी।
मेडिकल कॉलेज अजमेर में 50 बेड क्षमता के नवीन आईसीयू एवं 20 बेड क्षमता के एनआईसीयू विकसित किए जाएगें।
अजमेर में ट्रोमा सेन्टर विकसित किए जाएगें।
आयुर्वेद, योग व नेचुरोपैथी के एकीकृत महाविद्यालय स्थापित किए जाएगें।
शैक्षिक संभाग अजमेर में विशेष योग्यजन वाले आवासीय विद्यालयों की स्थापना की जाएगी।
 संभाग मुख्यालय पर खेलों के लिए मल्टीपरपज इंडोर हॉल तैयार करवाए जाएगें।
युवाओं को अच्छी सुविधा देने के लिए यूथ हॉस्टल की साज-सज्जा व सुदृढ़ीकरण के कार्य किए जाएगें।
अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में अध्ययन की सुविधा के लिए अल्पसंख्यक बालक छात्रावास भवन का निर्माण मसूदा अजमेर में करवाया जाएगा।
जिले में 5 उप स्वास्थ्य केन्द्र के भवनों का निर्माण करवाया जाएगा।
राजकीय वृद्धाश्रम पुष्कर की क्षमता 25 से बढ़ाकर 50 वृद्धजन की जाएगी।
बच्चों में नशे की प्रवृति रोकने तथा उन्हें ऎसी परिस्थितियों से बाहर निकालने के लिए नेहरू बाल संरक्षण कोष के तहत अजमेर संभाग मुख्यालय पर समेकित बाल पुनर्वास केन्द्र के स्थापना स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से चरणबद्ध रूप से किया जाना प्रस्तावित है।
सड़क मार्गों के मेजर रिपेयर कार्य- केकड़ी शहर की सड़क का 2 लेन से 4 लेन में चौड़ाईकरण (केकड़ी), एनएच-79 से झिपिया वाया राताकोट (मसूदा), नये बस स्टेण्ड किशनगढ़ से फरासीय फाटक (किशनगढ) करवाए जाएगें।
 राज्य मार्गों के विकास कार्य- ब्यावर-मसूदा-गोयला (एसएच-26ए)- 146 करोड़ 34 लाख रूपए, अराई-सरवाड़ (एसएच-7ई)- 111 करोड़ 24 लाख रूपए, मांगलियावास-पादूकलां (एसएच-102)- 134 करोड़ 38 लाख रूपए, ब्यावर-पीसांगन-टहला-कोट-अलनियावास (एसएच-59 एवं 104)- 132 करोड़ 77 लाख रूपए, किशनगढ़-अराई-मालपुरा (एसएच-7ई) - 162 करोड़ 22 लाख रूपए से करवाए जाएगें। 
 आदर्श नगर में 2, दोराई-अजमेर में एक आरओबी के निर्माण के लिए डीपीआर तैयार करायी जाएगी।
राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के माध्यम से नसीराबाद एवं किशनगढ़ में आवासों का निर्माण करावाया जाएगा।
 धार्मिक नगरी पुष्कर के पवित्र सरोवर में बारिश के पानी के साथ गंदगी को जाने से रोकने संबंधी विभिन्न कार्यों के लिए डीपीआर बनायी जाएगी।
वर्ष 2020-21 में बीसलपुर पेयजल परियोजना के अंतर्गत पंचायत समिति केकडी, सरवाड एवं सावर के 192 गांव एवं 99 ढाणियों को पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए डीपीआर बनाने की घोषणा की गई थी। आगामी वर्ष में 725 करोड़ रूपए की इस परियोजना का कार्य प्रारंभ किया जा रहा है।
रिनोवेशन-रेस्टोरेशन योजना के अन्तर्गत अजमेर के विभिन्न जलाशयों के कार्य किए जाएगें। इससे किसानों को लाभांवित किया जाएगा।
सिवरेज सुविधा से वंचित केकड़ी व बिजयनगर में फिकल स्लेज ट्रीटमेंट प्लान्ट स्थापित किए जाएगें।
सर्वधर्म समभाव को बढ़ावा देने के लिए हिन्दू तीर्थस्थल पुष्कर, सिख तीर्थस्थल पुष्कर, मुस्लिम तीर्थस्थल सरवाड़ दरगाह के धार्मिक पर्यटन सर्किट बनाए जाएगें।
पर्यटकों के आकर्षण एवं मनोरंजन के लिए पुष्कर स्थित होकरा में 90 हेक्टेयर में तथा सूरजकुण्ड में 150 हेक्टेयर में टूरिज्म कॉम्पलेक्स के लिए बहुउद्देश्य योजना बनाई जाएगी।
किशनगढ़ (गांधी नगर) थाने को सीआई स्तर थाने में क्रमोन्नत किया जाएगा।
उच्च सुरक्षा कारागार, अजमेर के सुदृढीकरण एवं आधुनिकीकरण संबंधी कार्य करवाये जाने प्रस्तावित है।
 नसीराबाद में अपर जिला एवं सैशन न्यायालय खोला जाएगा।






#1578


© Copyright Horizonhind 2021. All rights reserved