For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 78786275
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: मुडोती चारागाह बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले सैकड़ों ग्रामीणों ने किया कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन |  Ajmer Breaking News: जिला परिषद में जिला स्थापना समिति की बैठक के दौरान 477 शिक्षकों को दी स्थाई नियुक्ति |  Ajmer Breaking News: बॉलीवुड के अभिनेत्री सारा अली खान और अमृता सिंह ने की ख्वाजा गरीब नवाज की दरगाह की जियारत |  Ajmer Breaking News: निर्माणाधीन मकान में चौकीदार की छत से गिरकर हुई मौत |  Ajmer Breaking News: अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड कार्यालय पर जयपुर की फर्म डिक्रीधारी के साथ पहुँची कुर्की करने |  Ajmer Breaking News: एचआईवी के साथ  जीवन यापन करने वालों को सरकारी सुविधाओं का लाभ दिलाने के लिए कार्यशाला |  Ajmer Breaking News: जीएसटी के विरोध में केंद्र के खिलाफ व्यापारिक संगठनों का भारत बंद का आह्वान |  Ajmer Breaking News: सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय में अंग्रेजी विभाग द्वारा ज्ञान गंगा कार्यक्रम का आयोजन |  Ajmer Breaking News: स्कूल व्याख्याता भर्ती 2018 के अभ्यर्थी 23 फरवरी से आरपीएससी के बाहर बैठे हैं धरने पर |  Ajmer Breaking News: एमडी कॉलोनी नाका मदार में सुने पड़े मकान को चोरों ने बनाया निशाना | 

अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़: दुनिया में कोरोना फैलाने वाले चमगादड़ की मिली नई प्रजाति

Post Views 101

January 15, 2021

नए रंग से वैज्ञानिक भी हैरान

उल्टे लटकते हुए चमगादड़ को एक बार देखने भर से किसी भी इंसान में डर पैदा हो सकता है। पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लेने वाले कोरोना वायरस महामारी के लिए भी इन्हें ही जिम्मेदार माना जाता है।





ऐसा माना जाता है कि चीन में चमगादड़ से मनुष्य में कोविड वायरस आया। हालांकि हम सभी ने अबतक सिर्फ काले रंग के ही चमगादड़ देखे हैं। किसी ने भी इनके रंगीन होने की कल्पना नहीं की होगी, लेकिन अब नारंगी रंग का चमगादड़ मिलने से वैज्ञानिक भी हैरान हैं।





वैज्ञानिकों का कहना है कि यह चमगादड़ की नई प्रजाति है। वैज्ञानिकों का कहना है कि ना केवल इसका रंग नारंगी है बल्कि यह फ्लकी भी है। साइंटिफिक जर्नल अमेरिकन म्यूजियम नोविटेट्स में वैज्ञानिकों ने इस चमगादड़ को लेकर अपनी स्टडी प्रकाशित की है। इस स्टडी में यह बात सामने आई है कि ये चमगादड़ की एकदम नई प्रजाति है। 





पश्चिमी अफ्रीकी देश गिनी में वैज्ञानिकों को यह नई प्रजाति मिली है। टेक्सास के ऑस्टिन में एक गैर-लाभकारी संगठन बेंट कंजर्वेशन इंटरनेशनल के डायरेक्टर जॉन फ्लैंडर्स ने कहा कि यह एक तरह से जीवन का लक्ष्य था लेकिन मैंने कभी सोचा नहीं था कि यह पूरा होगा। उन्होंने आगे कहा कि वैसे तो हर प्रजाति महत्वपूर्ण होती है लेकिन आप दिलचस्प दिखने वाले प्राणियों के लिए हमेशा तैयार रहते हैं और यह वास्तव में शानदार है।





उन्होंने कहा कि प्रयोगशाला में पहले से नई प्रजातियों को ढूंढने के लिए कोशिश जारी हैं लेकिन जंगल में जाकर इस तरह की नई प्रजाति ढूंढना अपने आप में अलग बात है। न्यूयॉर्क में अमेरिकन म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री में स्तनधारियों की क्यूरेटर नैंसी सीमंस कहती हैं कि यह एक ऐसी चीज है जिसकी हम पहचान नहीं कर सकते। 






इस चमगादड़ की नई प्रजाति का नाम मायोटिस निंबेन्सिस है और यह गिनी के निम्बा पहाड़ों पर रहते हैं। इस चमगादड़ की सटीक जांच के लिए वैज्ञानिकों ने इस नई प्रजाति के एक नर और एक मादा प्रजाति को भी पकड़ा।





आनुवंशिक विश्लेषण से यह सामने आया है कि यह नारंगी चमगादड़ अपने निकटतम रिश्तेदारों से एकदम अलग हैं। इसे नई प्रजाति घोषित करने में यह पहला कदम था। एक तरह से यह काले पंख वाले आम चमगादड़ की तरह दिखता है लेकिन इसके नारंगी रंग ने इसे चर्चित कर दिया है।


© Copyright Horizonhind 2021. All rights reserved