For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 76771239
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: आरपीएससी की चारदीवारी से 300 मीटर परिधि क्षेत्र में निषेधाज्ञा लागू |  Ajmer Breaking News: विधायक सुरेश रॉवत ने कांग्रेस पर साधा निशाना |  Ajmer Breaking News: तीर्थ नगरी पुष्कर में देह व्यापार के गोरखधंधे का भंडाफोड़ |  Ajmer Breaking News: पंचतीर्थ स्नान को लेकर जिला प्रशासन हुआ सतर्क |  Ajmer Breaking News: नगर निगम आयुक्त ने ली शादी समारोह स्थलों के संचालकों की बैठक |  Ajmer Breaking News: स्वच्छ भारत मिशन को लेकर होने वाले सर्वे के लिए निगम में आयोजित की गई बैठक |  Ajmer Breaking News: रोडवेज बस स्टैंड पर कोरोना नियमों की उड़ाई जा रही है धज्जियां |  Ajmer Breaking News: अजमेर के चांपानेरी में आग मतदान छोड़ भागे,ग्रामीण |  Ajmer Breaking News: श्री व्यापार महासंघ के अध्यक्ष मोहन लाल शर्मा ने सरकार के निर्णय को बताया सही |  Ajmer Breaking News: आनासागर चौपाटी के पास बनाए गए शौचालय का रखरखाव नहीं होने से हालात हुए बदतर | 

राजस्थान न्यूज़: अष्टमी पर आमेर शिलामाता के दर्शन से वंचित रहेंगे भक्त

Post Views 164

October 23, 2020

73 साल बाद पहली बार भक्त दर्शन से रहेंगे वंचित

जयपुर के आमेर किले में स्थित शिला माता मंदिर में दुर्गाष्टमी पर आज मां महागौरी के स्वरूप में विधि विधान के साथ अष्टमी के निमित्त विशेष पूजा-अर्चना की गई। आजादी के बाद ये पहला ऐसा समय रहा, जब भक्त मां के दर्शनों से वंचित रह गए। कोरोना के कारण इस बार मंदिर प्रबंधन ने मंदिर को 31 अक्टूबर तक आमजन के प्रवेश के लिए बंद कर रखा है।



पुजारी बनवारी लाल शर्मा ने बताया कि आज सुबह अष्टमी के निमित्त माता की पूजा की गई। पूजा से पहले माता को नई पोशाक धारण करा विशेष श्रृंगार किया गया। शाम 4.30 बजे नवरात्र पूर्णाहुति होगी। इससे पहले शुक्रवार रात को निशा पूजा की गई।पुजारी ने बताया कोरोना के कारण मंदिर को आमजन के लिए बंद रखा है, हालांकि इस बीच मंदिर में पूरे नवरात्रा सभी अनुष्ठान और पूजा-अर्चना नियमित की गई। नवरात्र में घट स्थापना भी हुई, इस बार छठ का मेला भी नहीं भर पाया।  



माता को लगाएंगे ड्राइफ्रूट व पताशे का भोग

​​​​​​​


इधर दूसरी तरफ जयपुर के राजापार्क में पंचवटी सर्किल स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर में माता के अष्टमी के निमित्त पूजा-अर्चना की गई। माता को ड्राइफ्रूट व पताशे का भोग लगाया गया। माता को दिनभर में पांच पोशाकें बदली जाएगी। दोपहर में महाआरती होगी।



रात के नवमीं के निमित्त हवन होगा। वैष्णो देवी सेवा समिति जुडे लोगों ने बताया कि अष्टमी पर लोग हलुवा, पूडी व काले चने का प्रसाद लेकर आएंगे, लेकिन इस बार मंदिर के बाहर से ही लोग माता को प्रसाद दिखाकर वापस ले जाएंगे और परिजनों को बांटेंगे, जबकि हर बार माता के प्रसाद मंदिर में ही बांटा जाता हैं।


© Copyright Horizonhind 2020. All rights reserved