For News (24x7) : 9829070307
RNI NO : RAJBIL/2013/50688
Visitors - 76771762
Horizon Hind facebook Horizon Hind Twitter Horizon Hind Youtube Horizon Hind Instagram Horizon Hind Linkedin
Breaking News
Ajmer Breaking News: आरपीएससी की चारदीवारी से 300 मीटर परिधि क्षेत्र में निषेधाज्ञा लागू |  Ajmer Breaking News: विधायक सुरेश रॉवत ने कांग्रेस पर साधा निशाना |  Ajmer Breaking News: तीर्थ नगरी पुष्कर में देह व्यापार के गोरखधंधे का भंडाफोड़ |  Ajmer Breaking News: पंचतीर्थ स्नान को लेकर जिला प्रशासन हुआ सतर्क |  Ajmer Breaking News: नगर निगम आयुक्त ने ली शादी समारोह स्थलों के संचालकों की बैठक |  Ajmer Breaking News: स्वच्छ भारत मिशन को लेकर होने वाले सर्वे के लिए निगम में आयोजित की गई बैठक |  Ajmer Breaking News: रोडवेज बस स्टैंड पर कोरोना नियमों की उड़ाई जा रही है धज्जियां |  Ajmer Breaking News: अजमेर के चांपानेरी में आग मतदान छोड़ भागे,ग्रामीण |  Ajmer Breaking News: श्री व्यापार महासंघ के अध्यक्ष मोहन लाल शर्मा ने सरकार के निर्णय को बताया सही |  Ajmer Breaking News: आनासागर चौपाटी के पास बनाए गए शौचालय का रखरखाव नहीं होने से हालात हुए बदतर | 

अजमेर न्यूज़: भूमि नामांतरण की एवज में रिश्वत प्रकरण में गिरफ्तार पटवारी ओर पिता को भेजा जेल

Post Views 2078

October 23, 2020

बलवंता की पटवारी दीप्ति जैन ने परिवादी से अपने पिता के जरिए ली थी रिश्वत

भूमि नामांतरण की एवज में रिश्वत प्रकरण में गिरफ्तार पटवारी ओर पिता को भेजा जेल


 बलवंता की पटवारी दीप्ति जैन ने परिवादी से अपने पिता के जरिए ली थी रिश्वत


भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने आज दाता बलवंता की पटवारी दीप्ति जैन और उसके पिता कमलचंद जैन को एसीपी न्यायालय में पेश किया जहां से दोनों पिता पुत्री को न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए गए  एसीबी की इंटेलिजेंट निरीक्षक कंचन भाटी ने बताया कि मामले में तहकीकात जारी है गौरतलब है कि दाता बलवंता में पटवारी के पद पर कार्यरत दीप्ति जैन को उसके ससुराल से और उसके पिता को ₹20000 की रिश्वत लेते सावित्री चौराहे से गिरफ्तार किया गया था।

 जानकारी के मुताबिक परिवादी सुरेश कुमार ने 28 सितंबर को एसीबी में एक रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसमें बताया था कि उसने अपने भाई की पत्नी के नाम से बीरगांव  में कृषि भूमि खरीदी है। जिसका म्यूटेशन खुलवाने के नाम पर पटवारी दीप्ति जैन 40 हजार रुपये रिश्वत की मांग कर रही थीं। इस पर परिवादी ने एसीबी में शिकायत की। जिस पर स्पेशल टीम और इंटेलिजेंस टीम ने मामले का सत्यापन करने के बाद कार्रवाई को अंजाम दिया। पटवारी दीप्ति जैन पूर्व में 10 हजार की रिश्वत ले चुकी थी। जिसके एवज में एक मुयुटीशन खोल दिया गया। दूसरा मिउटेशन खोलने की एवज में 20 हजार और मांगे जा रहे थे।20 हजार देने का समय तय हुआ और अजमेर में सावित्री चौराहे पर परिवादी को उसके पिता कमलचंद जैन को 20 हजार देते हुए एसीबी ने रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद दूसरी टीम ने नसीराबाद में पटवारी दीप्ति जैन को उसके ससुराल से गिरफ्तार किया था।


© Copyright Horizonhind 2020. All rights reserved